Phad Tradition Devnarayan
डिजिटल चित्र 

श्रृव्य (MP3)

भूमिका
भारत की फड़ परम्परा
देवनारायण लोक गाथा / काव्य
 
देवी-देवताओं का आह्वाहन
१.१ गणेश वन्दना
१.२ सरस्वती वन्दना
१.३ विष्णु वन्दना 
१.४ लोक अवतार    बाबा रामदेव जी
१.५ जगत देवता - शनि देव, सूर्य देव, चन्द्रमा

(देवनारायण कथा आरम्भ)

हरीराम और बाघ सिंह की कथा
२.१ राजा बिसलदेव की कचहरी एवं अजमेर शहर
२.२ राजा माण्डल का मण्दारा/मंदारा
२.३ हरीराम और लीला सेवरी  
२.४ बाघ सिंह का बाग और उनके विवाह     

चौबीस बगड़ावतों की कथा
३.१ बाघ सिंह की कचहरी
३.२ बाबा रुपनाथ और सवाई भोज
३.३ नौलखा बाग में बगड़ावत
३.४ बगड़ावत और रावजी नौलखा बाग में दारु पीते-पिलाते
३.५ दारु का रिसकर पाताल में जाना और राजा बासक का नाराज होना

रानी जयमती का अवतार और विवाह
४.१ भगवान विष्णु ब्राह्मण के वेश में
४.२ दुर्गा रानी जयमती के रुप में
४.३ रानी जयमती के विवाह
४.४ रानी जयमती रावजी के महल में

रानी जयमती का सवाई भोज के साथ भाग जाना
५.१ बगड़ावत रानी जयमती की तलाश में
५.२ सवाई भोज का रानी जयमती को भगाकर ले जाना

बगड़ावतों और रावजी का युद्ध
६.१ रावजी का बगड़ावतों के साथ युद्ध छेड़ना
६.२ बाबा रुनपाथ और रावजी का युद्ध
६.३ जोधा और जगरुप का युद्ध में काम आना     
६.४ अटाल्या जी और अन्य भाइयों की युद्ध में मृत्यु
६.५ दीपकंवर का युद्ध में काम आना
६.६ युद्ध क्षेत्र में नीयाजी
६.७ रण क्षेत्र में तेजाजी
६.८ सिर कटने के बाद भी नियाजी का युद्ध क्षेत्र में डटे रहना
६.९ खारी नदी का युद्ध
६.१० भांगीजी का जन्म
६.११ सवाई भोज और रानी जयमती
६.१२ रानी जयमती का विराट रुप
६.१३ रावजी द्वारा भूणाजी को मरवाने की कोशिश

देवनारायण का जन्म एवं मालवा की यात्रा
७.१ देवनारायण जन्म
७.२ ब्राह्मणों और डायन द्वारा बालक देवनारायण को मरवाने की कोशिश
७.३ साडू माता को बालक देवनारायण को साथ लेकर मालवा जाना
७.४ भेरुजी और जोगनियाँ
७.५ साडू माता द्वारा छोछु भाट को जहर का भोजन खिलाने की कोशिश
७.६ देवनारायण की मालवा से वापसी
७.७ देवनारायण का एवं नाग कन्या से विवाह
७.८ देवनारायण एवं पीपलादे का विवाह
७.९ देवनारायण एवं सोखिया पीर
७.१० देवनारायण का अपने भाई भांगी जी से मिलाप
७.११ देवनारायण की मालवा से खेड़ा चौसला में वापसी

महेन्दू जी एवं भूणाजी का मिलाप
८.१ बजौरी कांजरी और ढाई करोड़ का ज़ेवर
८.२ महेन्दूजी और भूणाजी मिलाप
८.३ महेन्दूजी और देवनारायण का मिलाप
८.४ भूणाजी के कारनामें

देवनारायण के कारनामें
९.१ देवनारायण के हाथों राजा बिसलदेव द्वारा भेजे गए भैंसा सुरों का अन्त
९.२ पार्वती का छोछु भाट और देवनारायण पर अपने शेर द्वारा प्रहार करना
९.३ देवनारायण द्वारा पार्वती के शेर का वध     
९.४ छोछु भाट का दीयाजी जोधका को लालच देकर देवनारायण से भिड़वाना
९.५ देवनारायण का दीयाजी के मुँह के दांत तोड़ना
९.६ देवनारायण एवं उत्तम कंवर का युद्ध 
९.७ बुंली घोड़ी वापस खैड़ा चौसला में
९.८ देवनारायण और रायमल पटेल

१०

खैड़ा चौसला में भूणाजी की वापसी
१०.१ छोछु भाट भूणाजी की तलाश में राण शहर म ें |
१०.२ भूणाजी पुष्कर में
१०.३ खैड़ा चौसला में जय मंगला हाथी की वापसी
१०.४ देवनारायण और पिलोदा ठाकुर का युद्ध
१०.५ भूणाजी और सातल-पातल के कटे हुए शीश
१०.६ भूणाजी को मरवाने के लिए रावजी के षडयन्त्र
१०.७ भूणाजी और देवनारायण का मिलाप

११

पाँचों भाईयों की फौज और रावजी से बदला
११.१

पाँचों भाई देवनारायण की कचहरी में 

११.२

देवनारायण की गायें रावजी के खेतों में

११.३

कपूरी धोबन और देवनारायण के ग्वाले

११.४

रानी सांखली और देवनारायण की गायें

११.५

रावजी और देवनारायण की गायें

११.६

देवनारायण और अन्य भाई राताकोट की राड़ में

११.७

गायों की वापसी और रावजी की मौत

११.८ देवनारायण के पुत्र एवं पुत्री बिला-बिली का जन्म
११.९ देवनारायण की बैकुण्ठ की ओर वापसी